web vs Android Apps Development

Web vs Android apps Development क्या सिखें? ?

हेलो दोस्तों, ज्यादातर लोगों के मन में यह सवाल आता है कि Web vs Android apps Development में क्या सीखना चाहिए। हम सीधे तौर पर यह निर्णय नहीं कर सकते हैं कि आपको क्या सीखना चाहिए और क्या नहीं?

क्योंकि कुछ चीजें किसी एक व्यक्ति के लिए आसान होती है तो वही चीज है किसी अन्य व्यक्ति के लिए मुश्किल होती है।

अगर आपको किसी चीज के बारे में पूरी जानकारी मिल जाती है तो आप खुद ही यह निर्णय कर सकते हैं कि आपको क्या सीखना चाहिए।

मैं इस पोस्ट में Web vs Android apps Development के कुछ मुद्दों को आपके सामने रखुंगा। जिसे समझ कर आप खुद ही निर्णय कर सकते हैं कि आपको क्या सीखना चाहिए?

हम कुछ मुद्दों को ध्यान में रखकर यह निर्णय करेंगे कि क्या सीखना चाहिए और क्या नहीं ?

Web vs Android Apps development के तुलनात्मक मुद्दे :-

  • सीखने में आसान।
  • कंपनियों की जरूरतों।
  • कंप्यूटर/लैपटॉप का स्पेसिफिकेशन (Specifications)।
  • भविष्य में बढ़ती हुई मांग। (Future Demand)
  • वेतन (Salary)।

सीखने में आसान।

सबसे पहले बात करते हैं वेब डेवलपमेंट की, वेब डेवलपमेंट में भी तीन प्रकार के जॉब होते हैं।

  1. Frontend Web Developer।
  2. Backend Web Developer।
  3. Full stack web developer।

आप इन तीनों में से कुछ भी सीख सकते हैं। Web Development लिए HTML, CSS, JavaScript, Python or Java, MongoDB etc. प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखनी पड़ती है। इसके साथ-साथ Web Browser कैसे काम करता है इसके बारे में भीी जानकारी रखना आवश्यक होता है।

Android Development में सब कुछ एक ही व्यक्ति को करना पड़ता है। इसके लिए कम से कम Java, Android SDK, Eclipse + ADT Plugin। इतना तो सिखना ही पड़ेगा।

इसके साथ-साथ Android Application के बारे में गहराई से जानकारी होना भी बहुत ही आवश्यक है।

कंपनियों की जरूरतें

आजकल जितनी भी बड़ी-बड़ी कंपनियां है, वे सभी कंपनियां अपनी खुद की एक ऐप बनाने की प्रयास कर रही है।

यहां तक कि आप न्यूज़ चैनल वालों को भी देख सकते हैं। लगभग सभी न्यूज़ चैनलों का एक ऐप होता है।

पहले इनके पास वेबसाइट था लेकिन जैसे ही न्यूज़ चैनल बड़ा होता गया वैसे ही इन्होंने एक ऐप बना लिया। और लोग इन एप्स को पसंद भी करते हैं।

लेकिन इससे पहले ये कंपनियां एक वेबसाइट बनाती है। बिना वेबसाइट के कोई भी कंपनी डायरेक्ट अपना एक App नहीं बनाती है।

इसके आधार पर अगर आप Full Stack Web Developer vs Android Apps Developer की बात करें, तो कोई भी कंपनी दोनों को ही नौकरी पर रखना चाहेगी।

कंप्यूटर/लैपटॉप जरूरतें (Specifications)

Web Development किसी भी लैपटॉप से सीख सकते हैं। वेब डेवलपमेंट में लैपटॉप में विशेष जरूरतें (specifications) की आवश्यकता नहीं होता है।

किसी भी प्रकार के लैपटॉप या कंप्यूटर से आप Web Development सीख सकते हैं।

लेकिन Android Apps Development में कम से कम 4GB रैम वाला लैपटॉप तो चाहिए ही। 4GB रैम से कम Specifications वाले लैपटॉप या कंप्यूटर में आपको बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा।

जैसे की लैग होना, हैंग होना, सॉफ्टवेयर अच्छे से ना चलना इत्यादि। अगर आपका लैपटॉप या कंप्यूटर 4gb रैम (Ram) से ज्यादा रहे तो बहुत ही अच्छा है।

भविष्य में बढ़ती हुई मांग

ज्यादातर लोग वेब डेवलपमेंट सीखना चाहते हैं क्योंकि शुरुआती दौर में वेब डेवलपमेंट सीखना बहुत ही आसान होता है।

जिसके परिणाम स्वरूप वेब डेवलपमेंट इंजीनियर की संख्या काफी तेजी से बढ़ रही है।

वही एंड्राइड डेवलपमेंट शुरुआती दौर में वेब डेवलपमेंट की तुलना में थोड़ा कठिन होता है। इसलिए लोग एंड्राइड डेवलपमेंट नहीं सीखना चाहते हैं।

परिणाम स्वरूप एंड्राइड एप्प्स डेवलपर की संख्या बहुत कम है। जिसके कारण ज्यादातर कंपनियां Android Developer को जॉब पर रखना पसंद करते हैं।

वेतन (Salary)

अब बात आती है वेतन, यह जानने के लिए सारे लोग उत्सुक होते हैं।

जैसे कि उपरोक्त बताया गया है की एंड्रॉयड डेवलपर की संख्या बहुत कम है जबकि वेब डेवलपर की संख्या अधिक है।

जिसकी वजह से कम सैलरी पर काम करने वाले वेब डेवलपर किसी भी कंपनी को आसानी से मिल जाते हैं।

जबकि Android Apps Developer बहुत ही मुश्किल से मिलते हैं जिसके वजह से इनकी सैलरी Web Developer की तुलना में थोड़ी अधिक होती है।

लेकिन अगर आप Web Development में मास्टर हो जाते हैं तो यह आपको Android Apps development की तुलना में अधिक सैलरी प्रदान करेगा।

निष्कर्ष (Conclusion):-

Web vs Android Apps Development दोनों अपने-अपने जगह पर अपनी जरूरतों के अनुसार अच्छे हैं। आप जितने समय में एक Web Developer बनना चाहेंगे लगभग उतना ही समय में Android Apps Developer भी बन सकते हैं।

आप अपने पसंद अनुसार Web Development तथा Android Apps development सीख सकते हैं। अगर आप कोडिंग के बारे में बिल्कुल भी कुछ नहीं जानते हैं तो आप वेब डेवलपमेंट से शुरुआत कर सकते हैं।

आगे चलकर जैसे-जैसे आपको जानकारी मिलती जाएगी। आप Android Apps Development और Web Development दोनों सीख सकते हैं।

और इस तरह से आप एक ऑल राउंडर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन सकते हैं और अपनी एक कंपनी भी खोल सकते हैं।

अपना सवाल पूछें।

%d bloggers like this: